Off Grid Solar Panel लगाए या फिर On Grid System! जानें क्या है डिफरेंस और किसमे होगा फायदा?

pmsuryodayyojanaonline.in

Trending

Difference Between Off Grid and On Grid Solar System 2024: आज के दिन कई सारे परिवार अपने घर की छत पर सोलर पैनल लगा रहे है। इसकी खास वजह ये है की भारत सरकार के MNRE विभाग द्वारा पीएम सूर्य घर मुफ्त बिजली योजना के तहत अधिक से अधिक सब्सिडी का लाभ प्रदान किया जा रहा है।

किंतु हम तब मुश्किल में पड़ते है जब हमे यह नहीं पता की कोन सा सोलर पैनल सिस्टम लगाना चाहिए? मतलब की ऑन ग्रिड सोलर पैनल लगाए या फिर ऑफ ग्रिड सिस्टम!

इस लेख को पूरा पढ़ने के बाद आपको इन दोनो के बीच जेपी अंतर है उसकी पूरी जानकारी प्राप्त हो जाएगी। इसलिए इसके बाद आप यह डिसीजन ले सकेंगे की आपको ऑफ ग्रिड सोलर पैनल लगाना है या फिर ऑन ग्रिड वाला सिस्टम!

Types of Solar System (Technology Based)

सबसे पहले तो आपको यह जानना जरूरी होता है की कितने प्रकार से सोलर सिस्टम भारतीय बाजारों में उपलब्ध हो सकता है। तो आपको बता देते है की आपके पास मुख्य रूप से 3 प्रकार के सोलर पैनल सिस्टम का विकल्प होता है। जिसमे से आप अपने घर के लिए किसी एक का चुनाव कर सकते है।

  1. Off Grid Solar Panel
  2. On Grid Solar Panel
  3. Hybrid Solar System

इन तीनों में से आज हम आपको ऑफ ग्रिड और ऑन ग्रिड सिस्टम के बीच क्या अंतर है उसकी जानकारी देंगे।

Difference Between Off Grid and On Grid Solar Panel

सबसे पहला अंतर तो दोनो के बीच संरचना का होता है। आइए दोनो के बीच स्ट्रक्चर में क्या फर्क है वह समझते है।

Structure Difference

Off Grid Solar

ऑफ ग्रिड सोलर पैनल सिस्टम में आपके द्वारा इंस्टॉल की गई सोलर पैनल से जो भी इलेक्ट्रिसिटी जनरेट होती है उसे आप इन्वर्टर की मदद से अपने घर के लिए उपयोग कर सकते है। यदि उपयोग होने के बाद बिजली बचती है तो उसे आप बैटरी में स्टोर कर सकते है। और जब भी सूरज की रोशनी नहीं मिलने के कारण इलेक्ट्रिसिटी सोलर पैनल की मदद से जनरेट नहीं हो सकती तब आप बैटरी में स्टोर किए गए पावर का यूज कर सकते है।

ऑफ ग्रिड और ऑन ग्रिड के बीच अंतर

On Grid Solar Panel

ऑन ग्रिड सोलर पैनल के स्ट्रक्चर में बैटरी की जगह पर आपको नेट मीटर का इस्तेमाल करना होता है। यानी की रूफटॉप सोलर पैनल से जनरेट की गई बिजली इन्वर्टर के जरिए सबसे पहले आपको घर में जो भी उपकरण है उसे चलाती है उसके बाद अधिक पैदा हुई बिजली आप net meter के जरिए ग्रिड को सप्लाई कर देते है।

Cost of Installation

इन दोनो में इंस्टालेशन खर्च का भी बड़ा फर्क पड़ता है जिसकी जानकारी नीचे दे रखी है।

Off Grid Solar System

जैसा कि हमने आपको पहले ही बता दिया है की यदि आप ऑफ ग्रिड सोलर के साथ जाते है तो आपको बैटरी को जरूरत पड़ती है। यानी को बैटरी का खर्च एक्स्ट्रा देना होगा। इसलिए ऑफ ग्रिड सोलर सिस्टम लगवाने का खर्च भी अधिक हो जाता है। क्योंकि यूं मान लो की बैटरी का खर्च तकरीबन 20 से 25 हजार रुपए तक का हो जाता है। हालांकि यह खर्च सोलर पैनल सिस्टम की कैपेसिटी पर निर्भर रहता है।

On Grid Solar

ऑन ग्रिड सोलर पैनल का इंस्टालेशन करते वक्त आपको किसी भी तरह की बैटरी बैक अप की जरूरत नहीं होती है। इसमें आपको केवल नेट मीटर लगाने की जरूरत पड़ती है। ताकि दिन में पैदा की गई जरूरत से ज्यादा इलेक्ट्रिसिटी का इस्तेमाल आप नेट मीटर की मदद से रात में भी कर सकते है। ऑन ग्रिड सोलर पैनल लगाने के खर्च ऑफ ग्रिड की तुलना में कम होता है।

Subsidy for Solar Panel System

भारत सरकार के साथ साथ राज्य सरकारें भी अनुदान प्रदान करती है। जानिए किस सिस्टम पर आपको कितनी सब्सिडी मिल सकती है।

Off Grid Solar Panel

आपको बता देना चाहते है को भारत सरकार द्वारा हाल ही में जो PM Surya Ghar Muft Bijli Yojana को शुरू किया गया है इसके दी जाने वाली सब्सिडी का लाभ उठाने के लिए आपको ऑफ ग्रिड सोलर पैनल नहीं लगाना चाहिए। क्योंकि भारत सरकार नेट मीटरिंग वाले सोलर पैनल पर ही सब्सिडी मुहैया कराती है।

On Grid System

ऑन ग्रिड सोलर पैनल में बैटरी का यूज नहीं किया जाता। यानी की इसमें आप नेट मीटर की मदद से एक्सेस इलेक्ट्रिसिटी ग्रिड के माध्यम से डिस्कॉम तक पहुचाई जाती है। और रात में जरूरत पड़ने पर नेट मीटर के जरिए ही उस इलेक्ट्रिसिटी का इस्तेमाल आप कर सकते है। खुशी की बात यह है को पीएम सूर्य घर योजना में दी जाने वाली सब्सिडी का लाभ आप इस ऑन ग्रिड सोलर पैनल पर उठा सकते हैं।

आपके घर में कोन सा सोलर सिस्टम लगाना चाहिए, ऑफ ग्रिड या फिर ऑन ग्रिड?

देखिए यदि आप ऑफ ग्रिड सोलर सिस्टम लगाते है यानी की आपके पास बैटरी बैक अप की सुविधा है। इसका मतलब यह है की जब भी आपके घर में डिस्कॉम कंपनी से पावर कट किया जाता है यानी को लाइट गुल हो जाती है तब भी आप बैटरी में स्टोर किए गए पावर का इस्तेमाल कर घर के उपकरण चला सकते है। जब की ऑन ग्रिड सिस्टम में जब लाइट चली जाती है तब आप किसी भी तरह से अपने घर के उपकरण नहीं चला सकते।

इसका मतलब साफ है की यदि आपके घर या फिर एरिया में पावर कट की समस्या अधिक है तो आप ऑफ ग्रिड सोलर पैनल सिस्टम लगा कर फायदा उठा सकते है। नहीं तो आपको ऑन ग्रिड सिस्टम लगाना चाहिए क्योंकि इसमें आपको पीएम सूर्य घर मुफ्त बिजली योजना से सब्सिडी का लाभ भी मिलेगा।

इसी प्रकार सोलर से जुड़ी सभी समस्या का समाधान लेने के लिए आप निरंतर pm surya ghar yojana वेबसाइट की मुलाकात लेते रहें। और सबसे पहले खबर को प्राप्त करने के लिए आप हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर भी जुड़ सकते है।

Read More:

Leave a Comment

PM Suryoday Yojana Online

pmsuryodayyojanaonline.in वेबसाईट पर आपको पीएम सूर्य घर मुफ़्त बिजली योजना से जुड़ी सारी जानकारी और सबसे पहले निरंतर अपडेट मिलती रहेगी।

Advertisement With Us

contact@pmsuryodayyojanaonline.in